Advertisement

क्यों छिड़ी हुई है TikTok बनाम Youtube की बहस, कैसे होती है टिक टॉक से कमाई?, जानें यहां

जब टिक टॉक यूजर्स अपने फॉलोवर्स की संख्या बढ़ा लेते हैं और उनके वीडियो लाखों करोड़ों के बीच पहुंचता है तो वे सीधे तौर पर कंपनी से बात करते हैं।
सोशल मीडिया पर टिक टॉक बनाम यूट्यूब की बहस छिड़ी हुई है।

सोशल मीडिया पर इस समय टिक टॉक वर्सेज यूट्यूब की बहस छिड़ी हुई है। ट्विटर पर तो #TikTok बैन की की मांग (tiktok ban in india) तक उठ खड़ी हुई है। और लोग इसे ट्रेंड भी करा दिए। भारत में टिक टॉक पर बैन की मांग रह-रहकर तो उठती रही है क्योंकि यह एक चीनी आइटम है। चीन का बहिष्कार ना जाने कब से चल रहा है लेकिन टिक टॉक को बैन करने की मांग इस बीच और बढ़ गई जब फैज़ल सिद्दीकी (13.4 मिल‍ियन फॉलोअर हैं) नाम के टिक टॉक यूजर ने एसिड अटैक से जुड़ा एक वीडियो पोस्ट कर दिया। फैजल के इस वीडियो पर काफी बवाल हुआ। मामला महिला आयोग तक पहुंचा और उसने टिक टॉक इंडियो को फैजल के tiktok अकाउंट को बंद करने की मांग की। वहीं सोशल मीडिया पर भी इस वीडियो की काफी आलोचना हुई जिसके बाद टिक टॉक को फैजल का अकाउंट सस्पेंड करना ही पड़ा।

क्या था वीडियो में: वीडियो में एक लड़की के चेहरे पर एसिड फेंकते हुए दिखाया गया था। एसिड के बाद लड़की का चेहरा पूरी तरह से जल जाता है। इसके बाद वह लड़की विचित्र मेकअप में नजर आती है। एक लाइन आती है, जिसमें फैजल कहते नजर आते हैं कि तुम्हें उसने छोड़ दिया, जिसके लिए तुमने मुझे छोड़ा था।

Advertisement

अब हम बताते हैं कि लोग टिक टॉक से पैसे कैसे कमाते हैं: टिक टॉक पर लोग फेमस होने के लिए काफी अजीबोगरीब वीडियो बनाते हैं। टिक टॉक पर आज गांव से लेकर शहर और आम आदमी से लेकर स्टार तक मौजूद हैं। कुछ लोग वाकई में अपनी रचनात्मक कंटेंट के जरिए लोगों को एंटरटेन करते हैं तो कुछ लोग हिट होने के लिए कुछ भी कर देते हैं।

क्या है टिक टॉक

Advertisement

बता दें कि टिकटॉक एक एंटरटेनमेंट ऐप्लिकेशन है जिसके जरिए यूज़र्स छोटे-छोटे वीडियो (15 सेकेंड तक के) बनाते हैं और अपने अकाउंट पर शेयर कर देते हैं। अब आपके कंटेंट के उपर होता है कि यह कैसा परफॉर्म करेगा। यानी उसे कितने लोग पसंद करेंगे और शेयर करेंगे। गौरतलब है कि TikTok एक चाइनीज सोशल मीडिया ऐप है और चीन के बाहर भी इसका काफी क्रेज है। साल 2019 में दुनियाभर में वॉट्सऐप के बाद सबसे ज्यादा टिकटॉक को ही डाउनलोड किया गया। इसके इंटरनेशनल वर्जन को 1 बिलियन से भी ज्यादा लोग डाउनलोड कर चुके हैं।

टिक टॉक इंडिया (indiatiktok)

Advertisement

इस एप्लीकेशन की बात भारत के संदर्भ में करें तो यहां टिक-टॉक के डाउनलोड का आंकड़ा 100 मिलियन से भी ज़्यादा है। इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक टिक टॉक एप्लीकेशन को हर महीने लगभग 20 मिलियन भारतीय इस्तेमाल करते हैं। वहीं ग्लोबल वेब इंडेक्स के अनुसार, इस पर 41 प्रतिशत यूजर 16 से 24 साल के बीच के हैं।

क्या टिक टॉक से पैसे कमाते हैं लोग?

Advertisement

भारत में भी कई टिक टॉक यूजर्स आज स्टार के तौर पर जाने जाते हैं। अभी उपर जिस फैजल सिद्दीकी का जिक्र किए हैं उसके 15 मिलियन फॉलोवर्स हैं। वहीं फैजू भी टिक टॉक स्टार था जिसके अकाउंट को सांप्रदायिक पोस्ट करने के बाद संस्पेंड कर दिया गया था। उसके भी फॉलोवर्स की संख्या करोड़ों में थी। ऐसे टिकटॉक यूजर्स सीधे तौर पर तो पैसा नहीं कमाते हैं लेकिन अन्य माध्यमों से काफी पैसे भी कमाते हैं। आपको बता दें ‘टिक-टॉक’ इस्तेमाल करने वालों में एक बड़ी संख्या गांवों और छोटे शहरों के लोगों की है।

टिक टॉक पर फॉलोवर्स बढ़ने से क्या होता है फायदा

Advertisement

प्रत्येक टिक टॉक यूजर्स चाहता है कि उसके ज्यादा से ज्यादा फॉलोवर्स हों। जितना जिसके फॉलोवर्स होंगे इनकम की संभावना उतनी ही होती है। अगर इस ऐप से होने वाली कमाई के बारे में बात करें तो इससे कमाई भी होती है, जिसका तरीका काफी अलग होता है। जानते हैं कैसे?

पहला तरीका: जिस टिक टॉक यूजर्स के जितने ज्यादा फॉलोवर्स होते हैं वे अपना यूट्यूब और इंस्टाग्राम अकाउंट को भी इससे कनेक्ट कर देते हैं। जिससे उसके यू-ट्यूब अकाउंट के व्यूज बढ़ने लगते हैं। और यू-ट्यूब से अपनी अच्छी कमाई कर लेते हैं।

Advertisement

दूसरा तरीका: जब आपके टिक टॉक पर अच्छे खासे फॉलोवर्स हो जाते हैं तो कई बिजनेस कंपनियां आपसे सीधे तौर पर संपर्क करती हैं कि आप उनके प्रोडक्ट को अपने टिक टॉक वीडियो के माध्यम से प्रोमोट करें। इसके लिए कंपनियों के साथ एग्रीमेंट कर अच्छे पैसे कमाते हैं। इससे कंपनी और यूजर दोनों को फायदा मिलता है।

तीसरा तरीका: जब टिक टॉक यूजर्स अपने फॉलोवर्स की संख्या बढ़ा लेते हैं और उनके वीडियो लाखों करोड़ों के बीच पहुंचता है तो वे सीधे तौर पर कंपनी से बात करते हैं। वे कंपनी से उनके प्रोडक्ट को प्रोमोट करने के लिए एक उचित एंग्रीमेंट साइन करते हैं और पैसा कमाते हैं। अब किस यूजर्स को कंपनी अपना प्रोडक्ट प्रोमोट करने के लिए कितनी रकम देगी ये सब यूजर्स के वीडियो, फॉलोवर्स, लाइक्स, कमेंट पर निर्भर करता है।

Advertisement
ख़बर खर्ची:
Related Post