Advertisement

हाथरसः ‘शक्ति मिशन’ से अपराधियों की खैर नहीं, एंटी रोमियो की 1 दर्जन टीमें सक्रिय, जानिए क्या है मिशन शक्ति

मिशन शक्ति के तहत प्रदेश भर में शोहदों व मनचलों को चिह्नित कर उनकी धरपकड़ की जाएगी। सीएम योगी आदित्यनाथ के मुताबिक इसके साथ ही…

Advertisement
शक्ति मिशन के तहत 50 से ज्यादा कर्मियों वाली करीब एक दर्जन टीमें बनाई गई हैं।

हाथरसः उत्तर प्रदेश के हाथरस में महिलाओं के खिलाफ अपराध रोकने के लिए एंटी रोमियो दस्ते फिर से सक्रिय हो गए हैं। इसके लिए 50 से ज्यादा कर्मियों वाली करीब एक दर्जन टीमें बनाई गई हैं। अधिकारकियों ने रविवार को यह जानकारी दी। उत्तर प्रदेश सरकार ने “मिशन शक्ति” अभियान शुरू किया है जिसके तहत यह कदम उठाया गया है।

प्रदेश सरकार को हाथरस में 19 वर्षीय दलित लड़की के साथ कथित सामूहिक बलात्कार और उसकी मौत के मामले में काफी आलोचना का सामना करना पड़ा था। हाथरस के पुलिस अधीक्षक (एसपी) विनीत जयसवाल ने रविवार को कहा कि जिले में महिला थाना समेत, 11 थाने हैं। 11 एंटी रोमियो दस्ते हैं जिनमें हरेक में पांच पुलिस कर्मी शामिल हैं। एक टीम में तीन महिला और दो पुरुष कर्मी हैं। ये दस्ते महिलाओं और लड़कियों को परेशान करने वाले बदमाशों पर नजर रखेंगी।”

Advertisement

जिला पुलिस प्रमुख ने रविवार को दस्तों के सभी सदस्यों के साथ बैठक की और महिलाओं तथा लड़कियों के खिलाफ अपराध को रोकने की जरूरत पर जोर दिया। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि ये दस्ते बाजार, स्कूलों एवं कॉलेजों, कोचिंग संस्थानों के आसपास, बस स्टैंड तथा पार्क आदि में गश्त करेंगे और महिलाओं एवं लड़कियों का उत्पीड़न रोकेंगे।

क्या है योगी सरकार का ‘शक्ति मिशन’

मिशन शक्ति के तहत प्रदेश भर में शोहदों व मनचलों को चिह्नित कर उनकी धरपकड़ की जाएगी। सीएम योगी आदित्यनाथ के मुताबिक इसके साथ ही सभ्य समाज के दुश्मनों की तस्वीर चौराहों पर लगेगी। शक्ति मिशन अभियान तीन चरण में 180 दिनों तक चलेगा। जिसमें प्रदेश के 24 विभागों का सहयोग लिया जाएगा। इसके साथ ही इस अभियान से अंतरराष्ट्रीय व स्थानीय सामाजिक संगठन अभियान से जुड़ेंगे। यूपी सीएम ने इस मिशन की घोषणा शनिवार को बलरामपुर में की। देवीपाटन मंदिर में मत्था टेकने के बाद बलरामपुर में रिजर्व पुलिस लाइन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने मिशन शक्ति का आगाज किया।

Advertisement

वहीं पुलिस ने अपने एक वज्र वाहन को मिशन शक्ति जागरूक रथ के रूप में तैयार किया है। जो पूरे जिले के अलग-अलग गांव और शहरों में जाकर लोगों को महिलाओं के साथ हो रहे अपराध के बारे में जागरूक करेगा और कई और कार्यक्रम भी महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस दौरान आयोजित किए जाएंगे।

Advertisement
ख़बर खर्ची

Share

Recent Posts

दैनिक भास्कर ने बताया- किस लिए हुई छापेमारी, दिग्विजय बोले- पत्रकारिता पर मोदी-शाह का प्रहार

दैनिक भास्कर समूह की मूल कंपनी ‘डी बी कॉर्प लिमिटेड’ की वेबसाइट पर उपलब्ध सूचना…

9 hours ago

वाराणसी: PM मोदी ने 1583 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का उद्घाटन, शिलान्यास किया

प्रधानमंत्री ने लगभग 839 करोड़ रुपये की लागत की कई परियोजनाओं और सार्वजनिक कार्यों की…

1 week ago

दिलीप कुमार के बारे में वो बातें जो आप नहीं जानते हैं!

ट्रेज़डी किंग के नाम से मशहूर दिलीप कुमार का 98 साल की उम्र में निधन…

2 weeks ago

ऑक्सीजन पर विवाद: दिल्ली सीएम केजरीवाल ने विरोधियों को दे डाली नसीहत- मिलकर लड़ेंगे तो…

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘ऑक्सीजन पर आपका झगड़ा खत्म हो गया हो तो थोड़ा काम…

4 weeks ago

क्या Pfizer या मॉडर्ना के वैक्सीन हमारे आनुवांशिक कोड को प्रभावित कर सकते हैं? जानिए

सरकार द्वारा जारी नवीनतम अनुमानों में यह कहा गया है। सितंबर से फाइजर टीके की…

4 weeks ago