Advertisement

किसान आंदोलन पर सवाल उठाने वाली ‘गोदी मीडिया’ पर भड़के यूजर्स, ऐसे दिए रिएक्शन

अगर आप अपने अधिकारों के लिए विरोध नहीं कर सकते तो नए भारत में आपका स्वागत है। मोदी के शासन वाले भारत में।

Advertisement
किसान आंदोलन पर सवाल उठाने वाली ‘गोदी मीडिया’ पर भड़के यूजर्स

कोरोनाकाल में केंद्र सरकार द्वारा लाए कृषि बिल को लेकर देशभर के किसान गुस्से में हैं। पंजाब, हरियाणा के किसान सहित यूपी के किसान दिल्ली कूच कर रहे हैं। इसी को देखते हुए केंद्र सरकार ने दिल्ली के सभी सीमाओं को बंद कर सुरक्षा बढ़ा दी है। सिंधु बॉर्डर पर किसानों और पुलिस के बीच भिड़ंत हुई है, यहां पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े हैं। अब इस प्रदर्शन का असर उत्तर प्रदेश में दिखने लगा है और मेरठ-मुजफ्फनगर में हाइवे जाम किया गया है।

किसानों के इस आंदोलन को लेकर कई मीडिया चैनल्स इस पर सवाल उठा रहे हैं और इस खालिस्तान द्वारा प्रायोजित बता रहे हैं। देश के अन्नदाता के हक को लेकर मीडिया के इस रवैए पर सोशल मीडिया यूजर्स काफी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। वे मीडिया को गोदी मीडिया संबोधित कर रहे हैं, और सरकार द्वारा बिका हुआ बता रहे हैं।

Advertisement

एक यूजर ने लिखा, दल्लों शर्म आनी चाहिए! मीडिया में मैं कई ऐसे लोगों को जानता हूं जो नैतिकता और पत्रकारिता के सिद्धांत को जीवित रखने के लिए लड़ रहे हैं और उनकी वजह से मैं आप पर पूर्ण हमले नहीं करना चहता हूं! मैं अपने आप को बैंकर्स के मुद्दे पर नियंत्रित किया हुआ था, लेकिन इस पर नहीं करने वाला! क्योंकि इससे मेरा देश प्रभावित होगा।

अगर आप अपने अधिकारों के लिए विरोध नहीं कर सकते तो नए भारत में आपका स्वागत है। मोदी के शासन वाले भारत में।

Advertisement

क्या हमें ऐसी पत्रकारिता की जरूरत है?
या क्या हमें इन्हें पत्रकार कहना चाहिए??

एक यूजर ने लिखा, AIKSCC और किसान मोर्चा ने पीएम मोदी को पत्र भेजकर उन्हें दिल्ली आने और उनके प्रतिनिधि से बातचीत करने को कहा है।

Advertisement

सभी लोग कहते हैं कि किसान हमारे देश की ताकत है। लेकिन अगर ताकत क्षीण होगी तो देश ढह जाएगा। एक किसान का बेटा होने के नाते इसकी कड़ी निंदा करता हूं।

एक यूजर ने मीडिया के सवाल उठाने पर कहा, जिहादी, खलिस्तानी, मिशनरी, अर्बन नक्सल और देशद्रोही। इसके इतर बीजेपी किसानों के लिए क्या प्रयोग करेगी? भारतीय मीडिया लोगों की दुश्मन है।

Advertisement

अमनदीप नाम के यूजर ने आजतक पर हमला बोलते हुए लिखा, शर्म है आजतक। तुम मोदी सरकार में बिक चुके हो। तुम किसानों के साथ नहीं हो। बिहार में जब बीजेपी रैली कर रही थी तुम बिना रुके दिखा रहे थे। और अब किसानों की खबर दिखाने के लिए आप जो अनलिमिटेड ब्रेक ले रहे हैं। बहुत शर्म की बात है।

जब मुस्लिम विरोध जताए तो वह बीजेपी के खिलाफ है। वे पाकिस्तान द्वारा फंडेड होते हैं। और जब हरियाणा और पंजाब के किसान प्रोटेस्ट करें तो वे खलिस्तान द्वारा उकसाए गए हैं! भाड़ में जाओ राष्ट्रीय गोदी मीडिया। ट्टू सरकार की तारीफ करते नहीं थकते।

Advertisement

किसानों के आक्रोश को देखते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से अपील की है कि वो किसानों से तुरंत बात करे और प्रदर्शन को रोके। अमरिंदर ने कहा कि किसानों की आवाज को दबाया नहीं जा सकता है, सरकार तीन दिसंबर तक क्यों इंतजार कर रही है।

Advertisement
ख़बर खर्ची

Share

Recent Posts

KGF Chapter 2 full movie leaked: यश स्टारर केजीएफ 2 को तमिलरॉकर्स ने किया लीक, ऐसे देखें HD वीडियो

श का स्वैग, प्रशांत नील का निर्देशन, ताली बजाने योग्य संवाद, आश्चर्यजनक एक्शन सेट-पीस और…

3 weeks ago

यूपीः महोबा के SBI की शाखा में लगी भीषण आग, तमाम दस्तावेज जलकर खाक

बैंक अधिकारी इस घटना की पड़ताल कर रहे हैं। सीओ ने बताया कि प्रथमदृष्टया ऐसा…

2 months ago

दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास

हरभजन ने 1998 में शारजाह में न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय मैच से अंतरराष्ट्रीय पदार्पण किया…

5 months ago

यूपी में शनिवार से कोरोना कर्फ्यू, रात 11 बजे से सुबह पांच बजे तक प्रभावी रहेगा, शादियों में 200 से ज्यादा लोग नहीं

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि शनिवार 25 दिसंबर से प्रदेशव्यापी रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू प्रभावी किया…

5 months ago

सरकार अब दो साल तक रखेगी आपके कॉल डेटा, इंटरनेट के इस्तेमाल संबंधी रिकॉर्ड, जानिए

लाइसेंस में संशोधन 21 दिसंबर को जारी किए गए थे और 22 दिसंबर को इनका…

5 months ago