राम को अपशब्द बोलने के लिए माफी मांगता था 'रावण', रामायण की शूटिंग के दौरान अरविंंद त्रिवेदी रखते थे व्रत | ख़बर खर्ची

राम को अपशब्द बोलने के लिए माफी मांगता था ‘रावण’, रामायण की शूटिंग के दौरान अरविंंद त्रिवेदी रखते थे व्रत

अरविंद त्रिवेदी मूल रूप से मध्य प्रदेश के इंदौर शहर से ताल्लुक रखते हैं।

रामायण में रावण का किरदार निभाने वाले अभिनेता अरविंद त्रिवेदी अब 82 साल के हो चुके हैं। लेकिन रामायण के उस दौर को याद करते हैं तो बहुत कुछ खुलकर सामने आता है। रामायण के दोबारा ट्रेंड में आने से एक बार फिर राम और रावण यानी अरुण गोविल और अरविंद त्रिवेदी चर्चा में है। बीबीसी को दिए इंटरव्यू में अरविंद त्रिवेदी ने इस बात का खुलासा किया है कि वह शूटिंग के वक्त व्रत रखा करते थे। यानी जब तक शूट खत्म नहीं होता था वह अन्न का त्याग किए रहते थे।

इसी इंटरव्यू में अरविंद त्रिवेदी के नातिन ने जो बताया वह काफी रोचक है। उन्होंने बताया कि रावण का रोल करना अरविंद त्रिवेदी के लिए काफी मुश्किल भरा था। अरविंद त्रिवेदी से रावण बनने में उन्हें कम से कम 5 घंटे लगते। रावण के लिए उन्हें काफी भारी कॉस्ट्यूम पहनने पड़ते थे जिसमें लगभग 10 किलो का तो सिर्फ मुकुट होता था। मुकुट के अलावा शरीर पर लदे आभूषणों का वजन भी कुछ कम नहीं होते थे।

Advertisement

नातिन के मुताबिक अरविंद त्रिवेदी शूटिंग के दिनों लंबी पूजा किया करते थे। वह राम के काफी बड़े भक्त हैं यही कारण हैं कि जब भी शूटिंग पर जाते थे तो उपवास रखकर जाते थे। और शूटिंग पूरी होने और पूरा मेकअप निकल जाने के बाद ही कुछ खाया-पिया करते थे। यही नहीं राम के लिए अपशब्द बोलने को लेकर भी उनसे माफी मांगते थे कि मैं आपको कुछ अबशब्द बोलने जा रहा हूं लेकिन ये सिर्फ किरदार के लिए ही है।

400 लोग आए थे रावण का ऑडिशन देने

रावण का किरदार निभाने के लिए लगभग 400 लोग आए थे। अरविंद त्रिवेदी भी उस ऑडिशन में पहुंचे थे लेकिन रावण के किरदार के लिए नहीं बल्कि केवट का रोल निभाना चाहते थे। क्योंकि उस वक्त रावण के रोल के लिए सबकी पसंद दिग्गज अभिनेता अमरीश पूरी थे। खुद अरुण गोविल ने भी इस बात को स्वीकार किया कि रावण के रोल के लिए अमरीश पूरी के नाम पर उन्होंने भी हामी भरी थी। खैर..

Advertisement

गुजरात से चलकर केवट के लिए ऑडिशन देने आए अरविंद त्रिवेदी जब जाने लगे तो उनके बॉडी लैंग्वेज को देख रामानंद सागर ने तुरंत उन्हें रावण के लिए कास्ट कर लिया। उन्होंने तब कहा था कि मुझे मेरा रावण मिल गया।

कौन हैं रावण का किरदार करने वाले अरविंद त्रिवेदी

अरविंद त्रिवेदी मूल रूप से मध्य प्रदेश के शहर इंदौर शहर से ताल्लुक रखते हैं। रावण का किरदार करने के बाद उनकी किस्मत पलटी और लगभग 250 से भी ज्यादा गुजराती फिल्मों में काम किया। रामायण के ऑडिशन के दौरान वह गुजरात रहा करते थे और वहां के एक थिएटर से जुड़े थे। रामायण के बाद अरविंद राजनीति में भी उतरे थे और यहां पर उन्होंने काफी सफलता हासिल की थी।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x

Subscribe Now

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

ख़बर खर्ची will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.