Advertisement

‘काका’ के लिए दीवानी थीं पद्मिनी कोल्हापुरे, ऑडिशन में राजेश खन्ना ने कर दिया था रिजेक्ट

पद्मिनी को काका के साथ दोबारा काम करने का मौका मिला। रोल छोटा था लेकिन पद्मिनी के लिए किसी बड़े सपने के साकार होने से…

Advertisement
80 के दशक की मशहूर अभिनेत्री पद्मिनी ने अपने करियर की शुरुआत बतौर बाल कलाकार के रूप में की थी।

पद्मिनी कोल्हापुरे ने छोटी उम्र से ही फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया था। गोल-मटोल चेहरा और बड़ी आंखें। परदे पर जब बाल कलाकार के रूप में पद्मिनी ने कदम रखा तो काफी हिट हुईं। अदायगी के साथ पद्मिनी में गायिकी का भी हुनर था। 1973 में रिलीज हुई फिल्म ‘यादों की बारात’ में पद्मिनी ने बाल कलाकार के रूप में कोरस गाया था। आशा भोसले ने पद्मिनी का नाम देव आनंद को सुझाया, जिसके बाद उन्हें फिल्म ‘इश्क इश्क इश्क’ में बाल कलाकार के रूप में काम मिला। यह फिल्म 1975 में रिलीज हुई थी। इसके बाद पद्मिनी ने ‘ड्रीम गर्ल, ‘साजन बिना सुहागन, ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ सहित अन्य फिल्में बाल कलाकार के तौर पर की। पद्मिनी फिल्मों में आने से पहले राजेश खन्ना की बहुत बड़ी दीवानी थीं। इतनी दीवानी कि उनको देखने एयरपोर्ट तक पहुंच जाती थीं। पद्मिनी ने अपने एक इंटरव्यू में खुद इस बात का जिक्र किया था।

बकौल पद्मिनी- मेरी मां इंडियन एयरलाइंस में काम करती थीं। उस वक्त तो पूरे भारत में बस वही एक एयरलाइन हुआ करती थी, तो जब भी काका जी (राजेश खन्ना) कहीं शूटिंग के लिए जाते, तो मेरी मां मुझे फोन करके एयरपोर्ट बुला लेतीं। मैं उन्हें दूर से ही देख कर बहुत खुश हो जाया करती। तब राजेश खन्ना का करियर पीक पर था। पद्मिनी को काका के साथ एक फिल्म में काम करने की संभावना बनी। फिल्म थी चलता पुर्ज़ा। लेकिन ऑडिशन में रिजेक्ट हो गईं। रिजेक्ट खुद काका ने किया था। उस ऑडिशन में पद्मिनी के अलावा एक और लड़की थी और किसे चुना जाए इसकी ज़िम्मेदारी काका पर सौंप दी गई। उन्होंने पद्मिनी की बजाए उस दूसरी लड़की को चुन लिया। तब पद्मिनी का दिल टूट गया।

Advertisement

पद्मिनी को काका के साथ दोबारा काम करने का मौका मिला। रोल छोटा था लेकिन पद्मिनी के लिए किसी बड़े सपने के साकार होने से कम न थी। फिल्म ‘थोड़ी सी बेवफाई’ में काका के साथ काम करने के बाद पद्मिनी को काका के साथ ‘सौतन’ में काम करने का मौका मिला। हालांकि तब राजेश खन्ना का स्टारडम तब तक कम हो चुका था। फिल्म में काका के साथ रोमांटिक सीन देना था। पद्मिनी नर्वस थीं राजेश खन्ना ने काफी मदद की थी।

बता दें, 80 के दशक की मशहूर अभिनेत्री पद्मिनी ने अपने करियर की शुरुआत बतौर बाल कलाकार के रूप में की थी। वह एक बेहतरीन अभिनेत्री तो हैं हीं साथ ही एक अच्छी गायिका भी हैं। एक नवंबर 1965 को मुंबई में जन्मीं पद्मिनी अपना 55वां जन्मदिन मना रही हैं। पद्मिनी कोल्हापुरे के पिता पंढरीनाथ कोल्हापुरी एक संगीतकार थे। तीन बहनों में पद्मिनी दूसरे नंबर पर हैं। उनकी बड़ी बहन शिवांगी कपूर हैं, जो कि शक्ति कपूर की पत्नी हैं। इस तरह पद्मिनी, अभिनेत्री श्रद्धा कपूर की मौसी लगती हैं। पद्मिनी की छोटी बहन तेजस्विनी कोल्हापुरे भी एक अभिनेत्री हैं। 1980 में रिलीज हुई फिल्म ‘गहराई’ से पद्मिनी ने तहलका मचा दिया। महज 15 साल की उम्र में उन्होंने न्यूड सीन दिया था। उस दौर में न्यूड सीन देना बहुत बड़ी बात होती थी। इस सीन के बाद मुख्य अभिनेत्री के तौर पर काम करना उनके लिए आसान नहीं था।

Advertisement
ख़बर खर्ची

Share

Recent Posts

गोपाल राम गहमरी की तीन पुस्तकों का लोकार्पण

तीनों पुस्तकों के संपादक संजय कृष्ण ने कहा कि गोपाल राम गहमरी ने सौ से…

2 weeks ago

ब्रेकिंगः CRPF बटालियन को ले जारी ट्रेन में ब्लास्ट, 4 जवान घायल, एक की हालत गंभीर

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस घटना में स्टेशन में मौजूद अन्य किसी व्यक्ति को…

2 months ago

पुण्यतिथिः ‘किशोर कुमार जैसा गायक हजार वर्ष में केवल एक ही बार जन्म लेता है’

मेरे सपनों की रानी कब आयेगी तू और रूप तेरा मस्ताना गाना किशोर कुमार ने…

2 months ago

मां चामुंडा मंदिर में पूजा करने से मिलती है कष्टों से मुक्ति, जानिए देवी की शौर्य गाथा

नवादा से लगभग 23 किलोमीटर दूर रोह-कौआकोल मार्ग पर स्थित रूपौ गांव में मां चामुंडा…

2 months ago

Petrol, Diesel Prices: फिर बढ़े वाहन ईंधन के दाम, मुंबई में डीजल का शतक

मुंबई में अब डीजल 100.29 (Petrol, Diesel Prices At All-Time Highs. Diesel Crosses ₹ 100-Mark…

2 months ago