अंतिम संस्कार के इंतजार में स्ट्रैचर पर ही कंकाल बन गया लावारिस शव,जांच के आदेश | ख़बर खर्ची

अंतिम संस्कार के इंतजार में स्ट्रैचर पर ही कंकाल बन गया लावारिस शव,जांच के आदेश

Dead body on stretcher,  Indore MY hospital, Indore news, crime news, corona in indore, madhya pradesh news , hindi news, khabar kahrchi, अंतिम संस्कार के इंतजार में शव पड़े पड़े हुआ कंकाल,
सोशल मीडिया में इसकी तस्वीर सामने आने के बाद अस्पताल प्रबंधन ने जांच के आदेश दिये हैं।


इंदौर के एक सरकारी अस्पताल के मुर्दाघर में एक लावारिस शव के स्ट्रैचर में ही सड़ जाने और कंकाल बन जाने का मामला सामने आया है। सोशल मीडिया में इसकी तस्वीर सामने आने के बाद अस्पताल प्रबंधन ने जांच के आदेश दिये हैं।

शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (एमवायएच) के अधीक्षक प्रमेंद्र ठाकुर ने बुधवार को समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, “हमने लावारिस शव सड़ने के मामले की जांच के लिये समिति बनायी है। जांच में एमवायएच का जो भी कर्मचारी दोषी पाया जायेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी।”

Advertisement

हालांकि यह नहीं बताया कि कंकाल में तब्दील हुआ शव किस व्यक्ति का है और एमवायएच के मुर्दाघर में कब पहुंचा था?

इस बीच, पुलिस भी इस सवाल से कन्नी काटती दिखायी दे रही है। संयोगितागंज पुलिस थाने के प्रभारी राजीव त्रिपाठी के मुताबिक एमवायएच प्रबंधन ही जानकारी दे सकता है कि लावारिस शव अस्पताल के मुर्दाघर में कब और कैसे पहुंचा था?” उन्होंने कहा कि पिछले दिनों हमें संयोगितागंज क्षेत्र में जितने भी लावारिस शव मिले, उन सबका कानूनी औपचारिकताओं के बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया है।”

Advertisement

शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय में 16 फ्रीजर शवों को रखने के लिए मौजूद है लेकिन अधिकांश फ्रीजर बंद होने के कारण कई शव बाहर ही रखें रखे बदबू मारने लगते हैं। दिल को कंपा देने वाली तस्वीर से अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिम्मेदार अधिकारी अपना फर्ज किस तरह निभा रहे हैं।

एम वाई हॉस्पिटल से दो सौ कदम की दूरी पर बने मरच्यूरी रूम के बाहर स्टेट लाइट बंद है जिसके कारण अंधेरा होने से अधिकांश शव स्ट्रेचर से नीचे गिर चुके हैं। वहीं जब इस शव का मामला मीडिया में आया तो एम वाय हॉस्पिटल के प्रबंधन में हलचल मच गई तो आनन फानन में एमवाय अधीक्षक पीएस ठाकुर ने पहले तो उस लाश को वहां से हटवाया और नगर निगम को पत्र लिखकर लाश का अंतिम संस्कार करने की बात कही। वहीं पीएम रूम के इंचार्ज को भी एक कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। साथ ही इस मामले में जिस किसी की भी लापरवाही है उन पर कार्यवाही की बात कही।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x

Subscribe Now

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

ख़बर खर्ची will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.