सुशील मोदी पूछे- तेजस्वी, तेजप्रताप इतनी संपत्ति के मालिक कैसे बन गए; राजद सांसद ने दिया करारा जवाब | ख़बर खर्ची

सुशील मोदी पूछे- तेजस्वी, तेजप्रताप इतनी संपत्ति के मालिक कैसे बन गए; राजद सांसद ने दिया करारा जवाब

बिहार चुनाव 2020, बिहार विधानसभा चुनाव, तेजस्वी यादव, राघोपुर विधानसभा सीट, चुनाव आयोग, सुशील मोदी, बिहार न्यूज, Manoj jha, rajya sabha, rajya sabha mp,  Bihar Election 2020,  Bihar Assembly Elections,  Tejashwi Yadav,  Raghopur Assembly seat,  Election Commission,  Sushil Modi,  Bihar News,
सुशील ने आरोप लगाया कि दोनों नेताओं को जो सम्पत्ति उपहारस्वरूप प्राप्त हुई उसे 2005 में खरीदी हुई दिखाई जा रही है।

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि राजद प्रमुख लालू प्रसाद के पुत्र तेजस्वी प्रसाद यादव और तेजप्रताप यादव कम उम्र में इतनी अधिक सम्पत्ति के मालिक कैसे बन गए।

पटना में पत्रकारों को संबोधित करते हुए सुशील ने पूछा कि आखिर 31 साल की उम्र में तेजस्वी यादव 52 एवं तेजप्रताप 28 से ज्यादा सम्पत्ति के मालिक कैसे बन गए जबकि उनकी कोई पुश्तैनी सम्पत्ति नहीं थी।

Advertisement

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी की संपत्ति को लेकर सुशील ने कडे प्रहार किए। उन्होंने आरोप लगाया कि आखिर बिना किसी नौकरी, व्यवसाय के इतना पैसा कहां से आया कि किसी अन्य को 4 करोड़ 10 लाख का ऋण भी दे दिया।

सुशील ने आरोप लगाया कि दोनों नेताओं को जो सम्पत्ति उपहारस्वरूप प्राप्त हुई उसे 2005 में खरीदी हुई दिखाई जा रही है। सुशील मोदी ने कहा कि 1800 करोड़ के सृजन घोटाला में तीन साल बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होने के सवाल पर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अगर किसी को जांच की प्रगति से परेशानी है तो वह कोर्ट जाए। कहा कि इस बार भ्रष्टाचार बनाम नरेन्द्र मोदी व नीतीश कुमार का विकास भी चुनावी मुद्दा होगा।

Advertisement

वहीं, सुशील के आरोपों पर पलटवार करते हुए राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने कहा कि सुशील मोदी को बिहार में बिगड़ती विधि व्यवस्था और मुजफ्फरपुर की बच्चियों की चीत्कार (बालिका गृह यौन शोषण) मामले पर लोगों ने कभी बोलते नहीं सुना। आप सीधे आयकर विभाग से बात करें। आप जिस चीज की बात कर रहे हैं, वो सब सार्वजनिक है।

राजद के साथ विपक्षी महागठबंधन में शामिल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि सुशील मोदी करीब 15 सालों से बिहार में सत्तासीन हैं। उन्हें अपनी उपलब्धियां जनता को बताना चाहिए पर उनके पास उपलब्धि के तौर पर गिनाने के लिए कुछ है नहीं इसलिए जनता का ध्यान प्रदेश के ज्वलंत मुदुदों से हटाने के लिए वे विपक्षी दलों पर आरोप मढ़ रहे हैं ।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

x

Subscribe Now

You have successfully subscribed to the newsletter

There was an error while trying to send your request. Please try again.

ख़बर खर्ची will use the information you provide on this form to be in touch with you and to provide updates and marketing.