Advertisement

किसान यात्रा से पहले अखिलेश यादव हुए नजरबंद, आवास के बाहर भारी पुलिस फोर्स की तैनाती

किसानों के समर्थन में अखिलेश यादव ने किसान यात्रा निकालने का ऐलान किया था। सोमवार को उन्होंने ट्वीट किया, 'कदम-कदम बढ़ाए जा, दंभ का सर…

Advertisement

केंद्र के कृषि कानूनों के लेकर चल रहे किसानों के आंदोलन के तहत 8 दिसंबर को भारत बंद करने वाले थे तो वहीं अखिलेश यादव किसाना यात्रा निकालने वाले थे। इससे पहले ही उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को उनके आवास में नजरबंद कर दिया गया है। गौरतलब है कि अखिलेश यादव किसान यात्रा निकालने वाले थे। इसी को देखते हुए उनके घर के आसपास की सड़कों को बैरीकेडिंग के जरिए बंद कर दिया गया है। वहीं उनके आवास के बाहर भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई है। सपा प्रमुख का आरोप है कि उन्हें इस यात्रा में शामिल होने से रोकने के लिए नजरबंद किया गया है।

बता दें, किसानों के समर्थन में अखिलेश यादव ने किसान यात्रा निकालने का ऐलान किया था। सोमवार को उन्होंने ट्वीट किया, ‘कदम-कदम बढ़ाए जा, दंभ का सर झुकाए जा। ये जंग है जमीन की, अपनी जान भी लगाए जा।’ अखिलेश यादव का घर लखनऊ के विक्रमादित्य मार्ग पर है। उनके घर के बाहर निकलने वाले हर बाहरी रास्ते पर पुलिस ने बैरीकेडिंग की है। यह बैरीकेडिंग भी डबल की गई है। उनके घर से लेकर पार्टी के प्रदेश कार्यालय तक इस तरह घेराबंदी की गई है कि वहां तक पहुंचना उनके लिए नामुमकिन है। इलाके में पुलिस कि लगातार गश्त जारी है।

Advertisement

अखिलेश यादव को नजर बंद किए जाने को लेकर सपा प्रवक्ता जूही सिंह ने राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला है। जूही सिंह ने अपने एक ट्वीट में कहा, ‘श्रीकृष्ण तो न्याय का पर्याय हैं, बैरिकेटिंग, बलप्रयोग, सत्ता का दुरूपयोग कर के न तब बंधक बना पाए थे, न अब बना पाएंगे। उनकी (अखिलेश) सेना शांतिपूर्ण तरीके से अन्याय अराजकता के हर स्तंभ को ध्वस्त करेगी। अब रोक नहीं पाएंगे उनको।’

उधर, समाजवादी पार्टी ने ट्वीट किया, ‘BJP सरकार में किसानों से अन्याय एवं किसान विरोधी कानूनों के खिलाफ सपा की ‘किसान यात्रा’ से डरी सत्ता इसे रोकने के लिए समाजवादियों का दमन कर रही है। गैरकानूनी तरीके से पुलिस थानों में उन्हें बुला कर, घरों पर जा कर रोक रही है, घोर निंदनीय! किसान, नौजवान दंभी सत्ता को देंगे जवाब।’

Advertisement
ख़बर खर्ची

Share

Recent Posts

कौन सा चैनल किसके इशारे पर काम कर रहा है?, किसानों ने टीवी एंकरों की बताई हकीकत; देखिए

किसानों से जब चैनल ने उनके मुद्दे उठाने, उनकी बात करने वाले चैनलों के बारे…

2 weeks ago

किसानों ने बनाया अजूबा टॉयलेट, पानी की एक भी बूंद का नहीं होता इस्तेमाल

सहज ने बताया कि इस डीकंपोस्ट टॉयलेट की वजह से रोजाना हजार लीटर पानी की…

3 weeks ago

शादी के वादे पर सेक्स करना रेप नहीं, जानिए- हाई कोर्ट ने अपने फैसले में और क्या कहा?

गौरतलब है कि फरियादी महिला 2008 से लेकर 2015 तक एक पुरुष के साथ रिलेशन…

1 month ago

रवीश कुमार: जनता अपने जन-मृत्यु के महाभोज की तैयारी करे, ख़ुश रहे

किसानों की लड़ाई शाहीन बाग़ की तरह हो गई है। धरना तो है लेकिन उसके…

1 month ago

सर्दियों में लोग क्यों हो जाते हैं माटापे का शिकार, इन उपायों से पाएं निजात

भोजन में पत्तागोभी का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें। इसे उबालकर या सलाद के रूप…

1 month ago

Hindi Essay On Christmas Day: क्रिसमस पर ऐसे लिखें हिंदी में निंबध

क्रिसमस डे पूरी दुनिया में धूमधाम से हर साल 25 दिसंबर को मनाया जाता है।…

1 month ago